पश्चिम बंगाल : राज्य में संवेदनशील बूथ व क्षेत्र के संबंध में आयोग ने मांगी रिपोर्ट – DollarJob

पश्चिम बंगाल : राज्य में संवेदनशील बूथ व क्षेत्र के संबंध में आयोग ने मांगी रिपोर्ट

[ad_1]

आगामी कुछ सप्ताह के अंदर देश में लोकसभा चुनाव (Lok sabha Election) की तारीखों की घोषणा हो सकती है. इसके पहले आयोग चुनाव की तैयारियों में जुटा हुआ है. इसी बीच, चुनाव आयोग ने राज्य के प्रत्येक जिला प्रशासन को अपने-अपने जिले की कानून-व्यवस्था की स्थिति से अवगत कराने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही आयोग ने राज्य के प्रत्येक लोकसभा केंद्र को के आधार पर संवेदनशील बूथों और संवेदनशील क्षेत्रों की पहचान करने का काम शुरू कर दिया है. उल्लेखनीय है कि किस इलाके में कितने फोर्स की तैनाती होगी, यह संवेदनशील इलाके पर निर्भर करता है.

आयोग की फुल बेंच चार मार्च को आ रही है बंगाल

चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने के लिए आयोग की फुल बेंच चार मार्च को बंगाल आ रही है. इससे पहले राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी आरिज आफताब 24 फरवरी को सभी जिलाधिकारियों, पुलिस आयुक्तों व जिला पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक करने जा रहे हैं. इससे पहले आरिज आफताब ने पिछले हफ्ते जिलाधिकारियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की थी. आयोग ने जिला प्रशासन से कानून-व्यवस्था की स्थिति के बारे में रिपोर्ट तलब की है. कानून-व्यवस्था बिगड़ने की कोई भी घटना होने पर तुरंत आयोग को सूचित करने का निर्देश दिया गया है.

8 से 14 मार्च के बीच हो सकता है लोकसभा चुनाव की तारीख का ऐलान

मालूम हो कि चुनाव आयोग की फुल बेंच चार मार्च को कोलकाता पहुंचने के बाद पांच मार्च को सर्वदलीय बैठक करेगी. उसी दिन जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक होगी. छह मार्च को राज्य के मुख्य सचिव और राज्य पुलिस महानिदेशक के साथ बैठक के बाद चुनाव आयोग की फुल बेंच प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी. जानकारी के अनुसार, आठ-14 मार्च के बीच लोकसभा चुनाव की तारीख का ऐलान हो सकता है.गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के लिए आयोग बंगाल पर खास नजर रख रहा है. इस बार बंगाल में लोकसभा चुनाव का प्रभारी एक विशेष चुनाव अधिकारी को बनाया गया है.

[ad_2]

Leave a Comment

x