फर्जी कॉल सेंटर खोलकर 1000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में कोलकाता में ईडी की छापेमारी %पश्चिम बंगाल में फर्जी कॉल सेंटर धोखाधड़ी मामले में कोलकाता में ईडी की छापेमारी – DollarJob

फर्जी कॉल सेंटर खोलकर 1000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में कोलकाता में ईडी की छापेमारी %पश्चिम बंगाल में फर्जी कॉल सेंटर धोखाधड़ी मामले में कोलकाता में ईडी की छापेमारी

[ad_1]

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में फिर ईडी (ED) की कार्रवाई जारी है. इस बार ईडी जांचकर्ताओं की दो टीमें कोलकाता के बेनियापुकुर और कैखाली में फर्जी कॉल सेंटर खोलकर 1000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में तलाशी अभियान चला रही है. ईडी का दावा है कि सीआईडी हिरासत में रहते हुए आरोपी ने सहयोगियों को फोन करके सबूत नष्ट करने का प्रयास किया था. जिसके बाद यह कार्रवाई शुरु हुई है. हालांकि, ईडी सूत्रों के मुताबिक इसका सरकारी भर्ती भ्रष्टाचार या राशन भ्रष्टाचार के आरोपों से कोई लेना-देना नहीं है. पिछले कुछ महीनों से कोलकाता में चल रहे फर्जी कॉल सेंटरों पर ईडी सक्रिय है. एक ओर जहां सरकारी क्षेत्र में विभिन्न भ्रष्टाचारों की जांच चल रही है, वहीं केंद्रीय जांच एजेंसी ने इस फर्जी कॉल सेंटर की भी जांच शुरू कर दी है.

कॉल सेंटर के कर्मचारी विदेश में रहने वाले लोगों को देते थे धोखा

ये कॉल सेंटर शृंखलाएँ अंतर्राष्ट्रीय जगत में फैली हुई हैं. कथित तौर पर इस कॉल सेंटर के कर्मचारी विदेशियों को धोखा देते थे और उनसे पैसे वसूला करते थे. जांचकर्ताओं का अनुमान है कि ऐसे फर्जी कॉल सेंटर कोलकाता के विभिन्न हिस्सों में फैले हुए हैं. इस संबंध में पुलिस में कई बार शिकायत दर्ज करायी गयी है. ईडी जांचकर्ताओं को संदेह है कि इस एक मामले में कम से कम कई सौ करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार हुआ है. ईडी उसकी तह तक जाना चाहती है.

West Bengal Breaking News Live : फर्जी कॉल सेंटर खोलकर 1000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में कोलकाता में ईडी की छापेमारी

कुणाल गुप्ता पर 150 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप

इससे पहले इस फर्जी कॉल सेंटर मामले में पिछले साल के अंत में कुणाल गुप्ता नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया था. उन पर इंग्लैंड में कम से कम 300 लोगों ने वित्तीय धोखाधड़ी का आरोप लगाया था. कुणाल की गिरफ्तारी के बाद ईडी ने कोर्ट को बताया कि कुणाल ने इंग्लैंड में करीब 13 हजार लोगों को चूना लगाया है. कुणाल पर ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका के निवासियों से धोखाधड़ी का भी आरोप है.उन पर करीब 150 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप था. ईडी सूत्रों के मुताबिक, जांच में उन्हें पता चला है कि इन सभी कॉल सेंटरों के खिलाफ अलग-अलग शिकायतें दर्ज की गई हैं. लेकिन ये सभी फर्जी कॉल सेंटर किसी न किसी तरह एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं. जांच एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि ईडी यह भी पता लगाना चाह रही है कि क्या फर्जी कॉल सेंटर के प्रमुख भी हैं.

पश्चिम बंगाल : जानें किस मामले में दिल्ली में ईडी कार्यालय में पेश हुए तृणमूल सांसद सह अभिनेता देव

[ad_2]

Leave a Comment

x