बिहार: भागलपुर के गोराडीह में ही बनेगा एयरपोर्ट, डीएम ने ADM को सौंपी जमीन चिन्हित करने की जिम्मेवारी – DollarJob

बिहार: भागलपुर के गोराडीह में ही बनेगा एयरपोर्ट, डीएम ने ADM को सौंपी जमीन चिन्हित करने की जिम्मेवारी

[ad_1]

भागलपुर में एयरपोर्ट की मांग काफी पुरानी है. वहीं अब यहां एयरपोर्ट को लेकर अब फिर एकबार उम्मीद जगी है.जिला जन सम्पर्क कार्यालय भागलपुर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, भागलपुर में एयरपोर्ट के लिए अपर समाहर्ता को डीएम ने जमीन चिन्हित करने का निर्देश दिया है. भागलपुर के गोराडीह में यह एयरपोर्ट बन सकता है. अपर समाहर्ता ने बताया कि गोराडीह में 475 एकड़ जमीन उपलब्ध है. जिलाधिकारी की ओर से आगे की कार्रवाई को लेकर निर्देश दिए गए हैं. वहीं भागलपुर- नवगछिया रेल लाइन को लेकर भी भागलपुर के डीएम ने पहल की है और डीआरएम से बात की है.

भागलपुर के गोराडीह में बनेगा एयरपोर्ट

भागलपुर में बन रहे सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल ने जिले में एयरपोर्ट की मांग को बल दिया है. गुरुवार को जिला जन सम्पर्क कार्यालय से दी गयी जानकारी के अनुसार, भागलपुर के डीएम ने अपर समाहर्ता को एयरपोर्ट के लिए जमीन चिन्हित करने का निर्देश दिया है.अपर समाहर्ता ने बताया कि गोराडीह में 475 एकड़ जमीन उपलब्ध है. जिलाधिकारी ने इस पर अग्रेत्तर कार्रवाई हेतु निर्देश दिए हैं. डीएम ने कहा कि भागलपुर में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल बन रहा है. इसकी सुविधा पूर्णिया, कटिहार, सहरसा, खगड़िया, बेगूसराय और बांका के लोगों को भी मिल सके, इसके लिए सड़क संपर्क को दुरुस्त करना होगा और एयर एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध करानी होगी. उन्होंने यहां एक बड़ा एयरपोर्ट की जरूरत को भी सामने रखा. जहां से पूरे देश के साथ-साथ विदेश के लिए भी फ्लाइट की व्यवस्था हो. यानी इंटरनेशनल एयरपोर्ट की कवायद शुरू हुई है.

ALSO READ: भागलपुर से भी अब उड़ेंगे विमान, सरकार ने नये सिविल एयरपोर्ट के लिए मांगी 475 एकड़ जमीन

भागलपुर और नवगछिया को रेल लाइन से जोड़ने की भी हुई बात

वहीं भागलपुर और नवगछिया को रेल लाइन से जोड़ने के लिए भी भागलपुर के डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने संबंधित डीआरएम से बातचीत की है. डीएम ने बातचीत के दौरान बताया है कि पटना से भागलपुर की दूरी के अनुसार सफर 3 घंटे की होनी चाहिए, लेकिन 5 से 6 घंटे लग जाते हैं.

सिविल विमानन निदेशालय ने डीएम को दिया था निर्देश

बता दें कि बिहार सरकार के मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग के सिविल विमानन निदेशालय के निदेशक (संचालन) ने हाल में भागलपुर के जिलाधिकारी को 475 एकड़ जमीन चिह्नित करके इसकी रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था. जिसके बाद जमीन चिन्हित करने के लिए डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने एक कमेटी गठित की थी. एयरपोर्ट के लिए 475 एकड़ जमीन चिन्हित करने के बाद इसकी रिपोर्ट तैयार करके बिहार सरकार के सिविल विमानन निदेशालय को रिपोर्ट भेजी जानी है. बता दें कि भागलपुर में एयरपोर्ट की मांग काफी पुरानी है. इसे लेकर काफी संघर्ष किया गया है.अब जाकर जिले के लोगों की उम्मीदों को बल मिलने लगा है. इस एयरपोर्ट के बनने से भागलपुर समेत आसपास के जिलो में विकास की गति तेज होगी. गौरतलब है कि गोराडीह में गोशाला की करीब 450 एकड़ जमीन उपलब्ध है. मोहनपुर व अमानत सरकार मौजा में ये जमीन है. मोहनपुर मौजा में 333.06 एकड़ और अमानत सरकार मौजा में 208 एकड़ 15 डिसमिल जमीन उपलब्ध है.

ALSO READ: भागलपुर में बनेगा नया हवाई अड्डा, जमीन की खोज के लिए डीएम ने बनाई कमेटी

[ad_2]

Leave a Comment

x