भागलपुर और आसपास के जिलों में बारिश कबतक जारी रहेगी, जानिए.. – DollarJob

भागलपुर और आसपास के जिलों में बारिश कबतक जारी रहेगी, जानिए..

[ad_1]

बिहार का मौसम फिर एकबार करवट ले चुका है. ठंड के तेवर पिछले कुछ दिनों से कम हुए और दोपहर में लोगों को हल्की गर्मी का भी एहसास होने लगा था. लेकिन लगातार दो दिनों से अब आसमान में बादल मंडरा रहे हैं और राजधानी पटना समेत कई जिलों में देर रात से हल्की-हल्की बारिश भी हो रही है. मौसम अचानक बदला तो तापमान में भी गिरावट दर्ज की गयी. भागलपुर व आसपास के जिलों में भी बारिश ने दस्तक दी है. वहीं मौसम विभाग की ओर से बताया गया है कि कबतक मौसम का मिजाज इसतरह का रहेगा.

भागलपुर का मौसम

मौसम विभाग ने बारिश को लेकर पूर्वानुमान जारी किया था. तीन दिनों तक उत्तर और पूर्वी बिहार के जिलों में आंधी और ठनके की आशंका जतायी गयी थी. भागलपुर व आसपास के जिलों में भी बुधवार देर रात से रूक-रूक कर बारिश हो रही है. भागलपुर जिले के मौसम में बुधवार को फिर से बदलाव आया. तड़के सुबह से लेकर दोपहर तक आसमान में बादल छाये रहे. कभी धूप तो कभी छांव जैसी स्थिति रही. हालांकि, दोपहर दो बजे के बाद धूप काफी तेज हो गयी. अधिकतम तापमान 29 डिग्री व न्यूनतम तापमान 16.2 डिग्री रहा. शुष्क पछिया हवा चलती रही. वहीं देर रात बारिश ने भी दस्तक दे दी. रूक-रूक कर हल्की बारिश होती रही. गुरुवार सुबह तक मौसम ऐसा ही बना रहा.

मौसम विभाग ने दी ये जानकारी..

बीएयू के ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के अनुसार 22 से 26 फरवरी के बीच जिले में तापमान में वृद्धि बनी रहने की संभावना है. इस दौरान आसमान में हल्के बादल छाये रह सकते हैं. 22 फरवरी को भागलपुर और आसपास के जिलों में हल्की बारिश या बूंदा-बांदी की संभावना है. पश्चिमी हवा चलती रहेगी. हवा की औसत गति तीन से छह किलोमीटर प्रतिघंटे रह सकती है.

मौसम ने लिया यूटूर्न, बारिश के साथ तेज हवा से बढ़ी ठंड

मधेपुरा जिले में भी मौसम ने करवट ली है. दो दिन पूर्व तक अच्छी खासी तपिश वाली धूप निकल रही थी. लोगों के शरीर पर से जैकेट व स्वेटर उतरने लगे थे, लेकिन बुधवार की सुबह मौसम ने एक बार फिर यूटर्न ले लिया तो, लोगों की चिंता बढ़ गयी. हल्की बारिश के साथ चल रही तेज हवा ने कनकनी बढ़ा दी और लोगों को एक बार फिर स्वेटर और जैकेट लगाना पड़ा. बुधवार को न्यूनतम तापमान में बढ़त हुई और बूंदाबूंदी बारिश हुई थी. अधिकतम तापमान फिर दो प्वाइंट तक नीचे आ गया, जिससे ठंड के तेवर तल्ख हो गये. मौसम विभाग की माने तो यह पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी का असर है. इसका असर आने वाले दिनों तक बने रहने की संभावना है.

ठंड के बाद तापमान में बढ़ोतरी जारी

इस वर्ष ठंड की तरह ही गर्मी भी लोगों को सतायेगी. ठंड व शीत लहर के भीषण प्रकोप के बाद अब गर्मी से परेशानी बढ़ने वाली है. सप्ताह भर पहले तक ठंड से परेशान हो रहे लोग अब गर्मी का अनुभव करने लगे हैं. मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि फरवरी 24 गर्मी के रिकॉर्ड को तोड़ने की राह पर है. ग्लोबल वार्मिंग और अब नीनो जलवायु पैटर्न के चलते इस तरह की स्थिति पैदा हो रही है. तापमान में बढ़ोतरी पहले से अधिक गयी है. फरवरी महीने के दूसरे सप्ताह में ही खगड़िया का अधिकतम तापमान 30 डिग्री तक पहुंच गया है. जबकि न्यूनतम तापमान भी 15 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. इधर गर्मी बढ़ने के साथ ही मौसम में बदलाव भी दिख रहे हैं. पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम अपना रंग रूप को बदलने लगा है. इधर बुधवार को आसमान में बादल छाये रहे.

बिहार का मौसम क्यों बदला..

कड़ाके की ठंड से राहत देने के बाद दिन के समय काफी तेजी से गर्माहट की तरफ बढ़ रहे मौसम पर अब बारिश ब्रेक लगा रही है. पश्चिमी विक्षोभ के चलते खगड़िया में हल्की बारिश और बूंदा बांदी हुई है. पश्चिमी विक्षोभ के चलते आसमान में रविवार से ही बादल मंडराने लगे थे. 21 फरवरी से 23 फरवरी तक चमक के साथ हल्की बारिश होने और कहीं कहीं ओले पड़ने की भी संभावना बतायी गयी है. हिमालय क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ के चलते रविवार से ही मौसम में परिवर्तन दिख रहा है. पश्चिमी विक्षोभ के दस्तक देने के बाद मौसम बदल जाने और बारिश होने से अधिकतम तापमान में और गिरावट आ सकती है.

[ad_2]

Leave a Comment

x