रांची : कोयला व्यवसायी अभिषेक की हत्या में शामिल तीन उग्रवादी गिरफ्तार – DollarJob

रांची : कोयला व्यवसायी अभिषेक की हत्या में शामिल तीन उग्रवादी गिरफ्तार

[ad_1]

पिपरवार और खलारी थाना क्षेत्र के कोल व्यवसायी अभिषेक श्रीवास्तव की हत्या में शामिल रहे टीएसपीसी के तीन उग्रवादियों को चतरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इन उग्रवादियों के पास से भारी मात्रा में हथियार व अन्य सामान जब्त किये गये हैं. गिरफ्तार उग्रवादियों में रांची के मैक्लुस्कीगंज थाना क्षेत्र के धमधमियां माइंस कॉलोनी निवासी सब जोनल कमांडर अभिषेक उर्फ शोभित शर्मा उर्फ राजा, लातेहार के बालूमाथ के मुरपा गांव निवासी एरिया कमांडर इरफान अंसारी उर्फ तूफान और रांची के खलारी थाना क्षेत्र के जमुनाधौड़ा गांव निवासी संदीप लोहरा उर्फ बलवंत शामिल है. यह जानकारी एसपी राकेश रंजन ने मंगलवार को प्रेस वार्ता के दौरान दी.एसपी ने बताया कि कुछ दिनों से जिले के पिपरवार और टंडवा थाना क्षेत्र में कोल व्यवसायी व विकास कार्य से जुड़े व्यवसायियों को इन उग्रवादियों के नाम पर जान से मारने की धमकी देकर लेवी मांगी जा रही थी. इससे व्यवसायियों में दहशत का माहौल था. इन उग्रवादियों की गिरफ्तार करने को लेकर टंडवा एसडीपीओ के नेतृत्व में विशेष छापामारी टीम बनायी गयी थी. टीम ने त्वरित अनुसंधान व तकनीकी सहयोग से लगातार छापेमारी की और तीनों को अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार कर लिया. एसपी ने बताया कि गिरफ्तार इरफान के खिलाफ विभिन्न थानों में 17 मामले दर्ज हैं. वहीं, अभिषेक पर विभिन्न थानों में छह मामले दर्ज हैं. विशेष छापामारी टीम में टंडवा एसडीपीओ प्रभात रंजन बरवार, पिपरवार थाना प्रभारी गोविंद, एसआइ रूपेश महतो, दिलीप बास्की, अंजनी, एएसआइ शोभनाथ यादव व कई जिला बल के जवान शामिल थे.

चार जनवरी को हुई थी अभिषेक श्रीवास्तव की हत्या

राजधानी के रातू थाना क्षेत्र के आस्थापुरम, पिर्रा निवासी अभिषेक श्रीवास्तव पिपरवार, मगध व पुरनाडीह साइडिंग में कोयला लिफ्टिंग का कारोबार करते थे. उनकी हत्या चार जनवरी को की गयी थी. उस दिन वे सुबह 10:15 बजे रांची जाने की बात कह कर घर से निकले थे. उनका घर रिंग रोड से आधा किमी दूर है. वे रिंग रोड की ओर जा रहे थे. करीब 10:30 बजे सामने से सफेद रंग की स्कार्पियो कार आयी, जिस पर महाराष्ट्र का नंबर था. स्कॉर्पियो से मंकी कैप पहने दो अपराधी निकले और सामने से उनकी फॉर्च्यूनर कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे. दो अपराधी कार में बैठे थे. गोली मारने के बाद स्कॉर्पियो में सवार होकर अपराधी भाग गये. घायल अभिषेक को मेडिका अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. शुरुआत से ही पुलिस इस घटना में टीएसपीसी का हाथ होने की आशंका जता रही थी.कोल व्यवसायियों और संवेदकों के लिए थे आतंकगिरफ्तार उग्रवादी टंडवा, पिपरवार, रांची के खलारी, मैक्लूस्कीगंज, बुढ़मू, रातू थाना क्षेत्र में खनन व विकास कार्यों से जुड़े व्यवसायियों के लिए आतंक का पर्याय बन चुके थे. ये लगातार कोयला व्यवसायियों और संवेदकों को फोन कर लेवी मांगते थे. पिपरवार थाना क्षेत्र के सेंगाबिलारी गांव में जय अंबे ट्रांसपोर्ट कंपनी के हाइवा में आगजनी की घटना को अंजाम देनेवाला मास्टर माइंड इरफान अंसारी ही था. इन उग्रवादियों पर रेलवे साइडिंग में लोडिंग कार्य बाधित करने, टंडवा के उतराठी में निर्माणाधीन सड़क कार्य को बाधित कर स्थल पर गोलीबारी करने, जय अंबे रोड-लाइंस प्रालि के मैनेजर को लेवी के लिए धमकी देने का आरोप है.

[ad_2]

Leave a Comment

x