PhonePe का नया Indus Appstore कैसा है? – DollarJob

PhonePe का नया Indus Appstore कैसा है?

[ad_1]

What Is Indus Appstore? ऐप डाउनलोड करने की बात होती है तो सबसे पहले हम गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर की तरफ भागते हैं. अब हमारे पास एक और ऑप्शन आ गया है. PhonePe ने अपना नया ऐप स्टोर लॉन्च कर दिया है. फोनपे ने भारतीय यूजर्स के लिए लोकलाइज्ड ऐप स्टोर- इंडस ऐपस्टोर लॉन्च कर दिया है. यह भारतीय कंज्यूमर्स के लिए बनाया और कस्टमाइज किया गया है.

माना जा रहा है कि यह देसी ऐप स्टोर गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर के वर्चस्व को खत्म कर सकता है. फोनपे ने इसे ‘इंडिया का ऐप स्टोर’ बताया है. इसे 12 क्षेत्रीय भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा. आइए जानते हैं कि इस ऐप में क्या खास और अलग हो सकता है. Google Chrome को तुरंत करें अपडेट, इग्नोर किया तो होगा बड़ा नुकसान

इंडस ऐपस्टोर क्या है?

फोनपे भारतीय यूजर्स के लिए बनाया और कस्टमाइज किया गया लोकलाइज्ड ऐप स्टोर है. इंडस एक ऐसा ऐप स्टोर है, जिसे खास भारतीय यूजर्स के लिए पेश किया गया है. इंडस ऐपस्टोर का ऐलान पहली बार 23 सितंबर, 2023 को की गई थी.

इंडस ऐपस्टोर डेवलपर प्लैटफॉर्म के रूप में लॉन्च किया गया था. इसके लिए ऐप डेवलपर्स को सेल्फ सर्व डेवलपर प्लैटफॉर्म का इस्तेमाल कर अपने ऐप को रजिस्टर करने और अपलोड करने के लिए इनवाइट किया गया था. इंडस ऐपस्टोर आपके डिवाइस पर ऐप्स इंस्टॉल करने के लिए उपलब्ध है. फिलहाल यह एंड्रॉयड स्मार्टफोन के लिए उपलब्ध है.

फोनपे ने बताया है कि लॉन्च के समय इंडस ऐपस्टोर में 200,000 मोबाइल ऐप होंगे और इनमें कई हजार गेम भी शामिल होंगे. आपको बता दें कि इसमें कई भारी गेम्स भी शामिल हैं. इंडस ऐपस्टोर को आधिकारिक वेबसाइट indusappstore.com पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध कराया गया है. इसकी एपीके फाइल डाउनलोड की जा सकती है. Google ने पेश किया Android 15 का डेवलपर प्रीव्यू, इन डिवाइसेज को मिलेगा सबसे पहले अपडेट, चेक करें पूरी लिस्ट

12 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा

फोनपे के नये इंडस ऐपस्टोर को 12 क्षेत्रीय भाषाओं का सपोर्ट मिला है. इन्हें केवल एक टॉगल से स्विच किया जा सकता है. यूजर उन्हीं ऐप्स काे सेट ब्राउज कर सकते हैं, जिनका वास्तविक समय में अनुवाद होगा. डेवलपर्स का कहना है कि प्लैटफॉर्म पर लिस्टेड हर ऐप के लिए, उन्होंने ऐप स्टोर पर अपलोड होने से पहले 12 भाषाओं में अनुवाद किया है. इसके साथ ही, इसमें वीडियो-आधारित खोज का भी समर्थन मिलता है.

स्टोरेज मैनेज करना होगा आसान

यह नया ऐप स्टोर यूजर्स को अपने डिवाइस पर स्टोरेज को मैनेज करने में मदद भी करेगा. इंडस ऐपस्टोर पिछले कुछ महीनों के उपयोग के हिसाब से आपको बताएंगे कि आप कौन-सा ऐप डिलीट कर सकते हैं. इंडस ऐपस्टोर एआई पर संचालित रिकमेंडेशन को भी सक्षम करेगा. इंडस ऐपस्टोर अधिक सिक्योर है, क्योंकि इसमें यूजर को ओटीपी आधारित लॉगिन का सपोर्ट मिलेगा. जब भी यूजर लॉग इन करेंगे, तो उनके सामने एक मोबाइल नंबर वेरिफिकेशन ऑप्शन आयेगा. इसके साथ ही, लगातार इस्तेमाल के साथ यह आपको आपकी जरूरतों के अनुसार रिकमेंडेशन देगा.

[ad_2]

Leave a Comment

x